झटक ऐ दिल उन ख्यालोंं को

जो तेरा र्दद बढाते है

थाम ले उन हाथोंं को जो

तेरा हौसला बढाते है।

कैसे होते है वो लोग जो

खुद का ही घर जलाते है

इस जहाँँ मेंं बहुत से लोग है जो

बेमकसद ही यहाँँ आते है।

#सरितासृृजना

Advertisements