मैंं कल भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ,जब पहली बार तू मेरे गर्भ मेंं पनपी थी मेरी खुशी।

तेरे पैदा होने पर निहाल हुई, मैंं ममता से मालामाल हुई मुझको दुनिया का सबसे खुबसूरत खजाना देनेवाली,

मैंं कल भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

दुनिया का सबसे सुंंदर शब्द “माँँ” कहनेवाली चलने पर गिर-गिरकर मेरा आँँचल पकड़ने वाली मैंं तब भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

अपने कोमल नन्हेंं हाथोंं से मेरे केश सहलानेवाली ,पहली बार स्कूल मेंं जाते समय रोते-रोते तुझे देखकर मैंं भी रोई थी, मैंं तब भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

पल-पल बचपन को छोड़ यौवन-दहलीज पर कदम रखने वाली,हर उस सवाल का जवाब जो तेरी जुबांं पे रहता उस जवाब को मेरी आँँखोंं मेंं ढुँँढ़ने वाली,

मैंं तब भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

अपने जीवन की हर मुश्किल घड़ी में मुझको पुकारनेवाली, घबराकर मेरे सीने से लग जानेवाली,

मैंं कल भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

मुझको ममत्व के गौरव से नवाज़नेवाली ,तेरे फैसलोंं मेंं हमेशा मेरा मौन समर्थन समझनेवाली ,मैंं तब भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

मेरी चाहतोंं को बनावटी गुस्से से ,अपनी खनकती हँँसी से स्वीकारने वाली ,मैंं कल भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

मैंं इस दुनिया मेंं रहुँँ ना रहुँँ, मेरी मौजूदगी को महसूस करनेवाली, मैंं कल भी तेरे साथ थी मैंं आज भी तेरे साथ हूँ।

मैंं हमेशा-हमेशा तेरे साथ थी, हमेशा-हमेशा तेरे साथ हूँ मेरी लाडली।

#सरिता सृृजना

Advertisements